इस्लाम मज़हब अपनाने के लिये जब ये परिवार पहुँचा दारूल उलूम देवबंद तो मच गया हड़कंप….

    180
    0
    SHARE

    सहारनपुर: भारत के प्रमुख मुस्लिम संसथान दारुल उलूम देवबंद में एक दलित व्यक्ति ने अपने पुरे परिवार समेत मोहतमिम को प्रार्थना पत्र धर्म परिवर्तन करके मुस्लिम बनने की इच्छा जताई है.हालांकि देवबंद शासन प्रशासन की अड़चनों के वजह से शुक्रवार को धर्म परिवर्तन नहीं कर सका.

    17 फरवरी को करेंगे इस्लाम क़ुबूल…
    अब कहा जा रहा है कि वह 17 फरवरी को परिवार के सदस्यों के साथ इस्लाम धर्म कबूल करेगा. गौरतलब है कि जनपद मुजफ्फरनगर के खांजापुर गांव निवासी सुदेश कुमार शुक्रवार को दारुल उलूम देवबंद पहुंचे है.

    उलेमा ने समझा बुझाकर भेजा घर वापस…
    उन्होंने देवबंदी उलेमाओं से मुलाकात करते हुए मोहतमिम मौलाना मुफ्ती अबुल कासिम नोमानी बनारसी के नाम से एक प्रार्थना पत्र दिया. प्रार्थना पत्र में परिवार समेत इस्लाम धर्म कबूल करने की इच्छा जताई. सुदेश का प्रार्थना पत्र देखकर एक बार उलेमा भी हैरत में पड़ गए. हालांकि उन्होंने उन्होंने समझा बुझाकर वापस घर भेज दिया.

    सुदेश ने इस वजह से उठाया ये कदम…
    सुदेश के अनुसार मुजफ्फरनगर के सर्कुलर रोड पर उसकी करीब 400 गज जमीन है. जिस पर कुछ दबंग लोगों ने कब्जा किया हुआ है. इस मामले में पत्नी हरकौर देवी ने केस भी दायर किया था. पर कोर्ट ने 30 मई 2016 को उसके हक में फैसला सुना दिया. लेकिन कोर्ट के फैसले के बाद भी अभी तक उसे जमीन पर कब्जा नहीं मिला.

    इसके लिए उसने अफसरों के चक्कर भी काटे, लेकिन कही कोई सुनवाई नहीं हुई. सुदेश ने इंसाफ की मांग को लेकर गत 5 फरवरी को मुजफ्फरनगर कलक्ट्रेट में धरना देकर आत्मदाह की धमकी भी दी.

    जिला प्रशासन में मचा हड़कंप…
    जिसके चलते उसे पुलिस ने हिरासत में ले लिया था. सुदेश का कहना है कि उसकी कहीन सुनवाई नहीं हो रही है. इसलिए अब 17 फरवरी को परिवार समेत धर्म परिवर्तन करके मुस्लिम बन जायेगा. सुदेश के इस फैसले के बाद से जिला प्रशासन में हड़कंप मचा हुआ है.

    हमारा फेसबुक पेज लाइक करने के लिए यहाँ क्लिक करें

     

    LEAVE A REPLY

    Please enter your comment!
    Please enter your name here