सनसनीख़ेज़ ख़ुलासा: गुजरात में मुसलमानों के घरों पर लगाये जा रहे हैं इस तरह के लाल निशान…..

    72
    0
    SHARE

    अहमदाबाद: गुजरात दंगे हिन्दुस्तान की तारिख में वो बदनुमा दाग है जिन्हे मिटाया नहीं जा सकता है. विकासशील देशों की सूची में शामिल भारत की नज़र जहां विकसित बनने की है वहीं सांप्रदायिक शक्तियों की वजह से लगातार पीछे की तरफ घसीटा जा रहा है. गुजरात दंगों की टीस जहां एक तरफ मुस्लिम समुदाय में अन्दर तक चुभी हुई है वहीँ समाज में अभी तक उस खाई को नही भरा जा सका है.

    मुसलामानों के घरों पर लगा लाल निशान….
    गुजरात चुनाव में अभी करीब एक महिना बाकी है लेकिन सभी जातियों के साथ साथ मुस्लिम समुदाय इस बार खास दिलचस्पी दिखा रहा है. गुजरात सूत्रों के मुताबिक अहमदाबाद के पलडी में कुछ मुस्लिम सोसाइटी में लाल रंग से क्रॉस का निशान लगाया गया है. हालाँकि यह निशान किसने और क्यों लगाया है इसका अभी तक कुछ पता नही चल पाया है.

    इन इलाकों में लगाए गए निशान….
    सूत्रों ने मिली जानकारी के मुताबिक अहमदाबाद के अमन कॉलोनी, कार्नर फ्लैट्स, टैगोर फ्लैट्स, अल अमन फ्लैट्स, फैज़-ए-मोहम्मदी सोसाइटी पर लाल रंग से बड़ा क्रॉस का निशान लगाया गया है. जब सुबह उठकर मुस्लिम समुदाय के लोगो ने इसे देखा तो लोगो के चेहरे पर चिंता साफ़ दिखाई दी. बता दें कि गुजरात दंगो के वक्त भी मुसलमानों के घरों पर लाल निशान लगाने की बात सामने आई थी.

    समाज के ज़िम्मेदार लोगों ने पुलिस को दी सूचना….
    समाज के ज़िम्मेदार लोगों ने इसकी सूचना पुलिस और इलेक्शन कमीशन को दी है. अपनी एप्लीकेशन में स्थनीय नागरिकों ने लिखा कि हमारी कॉलोनी डिलाइट फ्लैट्स के मेन गेट पर हमने लाल रंग का निशान लगा देखा. नजदीकी बिल्डिंग से भी सूचना आई है कि उनकी दरवाजों पर भी इसी तरह का लाल निशान लगाया गया है.

    मुस्लमान निशान देखने के बाद से डर के माहौल में….
    जिन जिन कॉलोनियों में यह लाल निशान देखा गया है उनमे अमन कॉलोनी, नशेमन अपार्टमेंट, टैगोर फ्लैट्स, आशियाना अपार्टमेंट आदि है. यह कॉलोनियां नारायण नगर रोड पर शांतिवन तथा नेशनल इंस्टिट्यूट ऑफ़ डिजाईन के बीच में स्थित हैं. मुस्लिम समुदाय यह निशान देखने के बाद से डर के माहौल में आ गया है.

    हमारा फेसबुक पेज लाइक करने के लिए यहाँ क्लिक करें

     

    LEAVE A REPLY

    Please enter your comment!
    Please enter your name here