Home इतिहास कुछ इस तरह RSS ने भारत को ठगा, पढ़िये कुछ अहम बातें……

कुछ इस तरह RSS ने भारत को ठगा, पढ़िये कुछ अहम बातें……

110
0
SHARE

भारत से लेकर विदेश तक सब्भी भारतीय इस बात को मानते हैं कि भारत में हिंदुत्व का प्रभाव बढ़ रहा है जो भारत के लोकतंत्र के लिए एक बड़ा खतरा है.भारत की कई आर्गेनाईजेशन कुछ इस तरह के डॉक्यूमेंट तैयार कर हैं जिनसे एंटी नेशनल एक्टिविटी को रोका जा सके.ऐसे ही कुछ डॉक्युमेंट के बारे में हम्म बता रहे हैं जिनसे यह साफ़ हो जायेगा की आरएसएस ने किस तरह भारत की एकता को नुकसान पहुंचाया …

धर्म निरपेक्ष और भारत के झंडे का अपमान के डाक्यूमेंट्स..
RSS ने 3 जुलाई 1947 को ने मुसलमानो देश का बराबर का हिस्सेदार मानने से ममना कर दिया था. इसके अलावा उन्होंने भारतीय ध्वज के तिरंगे होने का विरोध भी किया था उनका मानना था कि भारतीय झंडे का रंग बभगवा रंग का हो.

भारत के नाम से थी आपत्ति ..
जग कोंस्टीटूशनल असेंबली ने भारत का नाम “भारत” रखा तो RSS चाहता था कि भारत का नाम हिंदुस्तान हो, क्यूंकि इसमें हिन्दू शब्द आता है. इसके अलावा RSS मुस्लमान,ईसाई,और कम्युनिस्ट के एक बड़ा खतरा भी था.

हमारा फेसबुक पेज लाइक करने के लिए यहाँ क्लिक करें…

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here