Home मुस्लिम जगत हिजाब मेरे लिए इस्लाम का दिया हुआ एक नायाब तोहफ़ा; मुस्लिम लड़की...

हिजाब मेरे लिए इस्लाम का दिया हुआ एक नायाब तोहफ़ा; मुस्लिम लड़की ने कही इतनी शानदार बात….

167
0
SHARE

मध्यप्रदेश: हिजाब मेरे लिए इस्लाम और अल्लाह का दिया हुआ एक नायाब और पसंदीदा तोहफा है. जिसने मुझे और मेरी इज्जत को गन्दी नज़रो से बचाकर रखा है. इस्लाम ने हम महिलाओं के लिए जितने अधिकार दिए है, शायद ही किसी मजहब की कोई किताब में हों.

मेरा मानना यह है कि हिजाब मुस्लिम महिलाओं की एक बहुत बड़ी जरूरत है. ना की मज़बूरी. हिजाब में रहते हुए मेने जितना अपने आप को सुरक्षित महसूस किया है. शायद ही किसी और लिबास में मैने कभी अपने आप को इतना महफूज महसूस नहीं किया.

इस्लाम में मर्यादा पहली सीढ़ी है…
और जो लोग मुस्लिम महिलाओं के अधिकार की बात करते है. में उन लोगों से कहना चाहती हूँ कि वह हमारे अधिकारों की फ़िक्र करना बंद करदें. क्योकि इस्लाम ने महिलाओं के लिए अधिकार दिए है. जो क़ुरआन और अहादीस में मौजूद है. यह बात अलग है कि इस्लाम में मर्यादा पहली सीढ़ी है.

मैं हिजाब से पूरी तरह खुश हूँ…
इस्लाम ने जो अधिकार मुस्लिम महिलाओं को दिये है. वह सब इस्लाम की मर्यादा और सिद्धांतों को ध्यान में रखकर दिए है. में हिजाब से पूरी तरह खुश हूँ. मुझे हिजाब पहनने में कोई हिचकिचाहट महसुस नहीं होती. मेने ख़ुशी ख़ुशी हिजाब को अपनी ज़िन्दगी का हिस्सा बनाया है.

बुशरा नाज़ ने हिजाब में रह कर शिक्षा हासिल की है…
बुशरा नाज़ मध्यप्रदेश से है. जिन्होंने अभी कुछ महीने पहले ही अपनी कॉलेज की शिक्षा पूरी की है. जिसके बाद वह एक न्यूज़ चैनल के लिए काम करती है. जिन्होंने अपने कॉलेज की पूरी शिक्षा हिजाब में रहकर पूरी की है. स्टूडेंट बुशरा नाज़ का कहना यह है.

कि हिजाब को वही महिला समझ सकती है. जिसने हिजाब को अपनी ज़िन्दगी का हिस्सा बनाया हो, मेरे पास कोई शब्द नहीं जो हिजाब की अच्छाई बयान कर सके.

हमारा फेसबुक पेज लाइक करने के लिए यहाँ क्लिक करें

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here