Home विशेष अल्लाह की मार, हिजाब का विरोध करने वाली इस महिला को अदालत...

अल्लाह की मार, हिजाब का विरोध करने वाली इस महिला को अदालत ने सुनाई 20 साल की सजा…

2808
0
SHARE

एक विरोध के दौरान एक ईरानी महिला को सार्वजनिक स्थल पर सारेआम हिजाब उतारने के लिए जेल में 20 साल की सजा सुनाई गई. शापार्क शाजारीजादे ने कहा कि उन्हें “अनिवार्य हिजाब का विरोध” और “सड़क पर शांति का एक सफेद झंडा लहराने” की वजह से जेल भेजा गया है. जिसके चलते महिला को पूरे 20 साल की सज़ा सुनाई गयी है.

अदालत ने सुनाई 20 साल की सजा…
द इंडिपेंडेंट के मुताबिक, पिछले महीने गिरफ्तार की गयी महिला के वकील ने कहा, 42 वर्षीय महिला को “गिरफ्तारी के बाद यातना और पिटाई की जा रही है. दिसंबर 2017 के बाद से, 30 से अधिक ईरानी महिलाओं को सार्वजनिक रूप से अपने घूंघट हटाने के लिए अधिकारियों ने गिरफ्तार कर लिया है.

ईरान में, महिलाओं को हिजाब पहनना जरूरी…
देश के अनिवार्य हिजाब पर आपत्ति में महिलाओं ने ईरान में भारी विरोध प्रदर्शन के बाद गिरफ्तारी किया जाता है. ईरान में, महिलाओं को सार्वजनिक तौर पर हिजाब पहनना ज़रूरी है. अगर कोई महिला उल्लंघन करती है तो उसे भारी जुर्माना देना होता है या जेल की सज़ा काटनी होती है.

ईरान के इस्लामी दंड संहिता के अनुच्छेद 638 में कहा गया है, इस्लामी हिजाब पहनने के बिना सार्वजनिक स्थानों और सड़कों में दिखाई देने वाली महिलाएं दस दिन से दो महीने की कारावास या 50 हजार से पांच सौ रिया की सजा सुनाई जाएंगी.

 हमारा फेसबुक पेज लाइक करने के लिए यहाँ क्लिक करें

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here