Home मज़हबी हदीस: जिस शख़्श ने अपने वालिदैन या उनमे से किसी एक को...

हदीस: जिस शख़्श ने अपने वालिदैन या उनमे से किसी एक को पाया, फिर उनके साथ बदसुलूकी की तो वह दोज़ख…

259
0
SHARE

अल्लाह के रसूल सल्लल्लाहु अलैहि वसल्ल्म ने फ़रमाया: जो आदमी किसी की एक बालिश्त ज़मीन भी नाहक दबाएगा तो क़यामत के दिन उसे सात ज़मीनों का तौक पहनाया जाएगा. [ बुखारी: 2453, अन आयशा रज़ि०] (सिर्फ पांच मिनट का मद्रसा सफा 514)

ये भी पढ़ें…
हज़रत मालिक या इब्ने मालिक रज़ि० से रिवायत है कि उन्होंने नबी करीम सल्लल्लाहु अलैहि वसल्ल्म को यह इर्शाद फरमाते हुए सुना: जिस शख्स ने अपने वालिदैन या उनमें से एक को पाया. फिर उनके साथ बदसलूकी की, तो वह शख्स दोज़ख में दाखिल होगा और उसको अल्लाह तआला अपनी रहमत से दूर कर देंगे,

और जो कोई मुसलमान किसी मुसलमान गुनाह को आज़ाद कर दे, यह उसके लिए दोज़ख से बचाव का ज़रिया होगा. (अबू याला, मुसनद अहमद तबरानी, तर्गीब) (मुन्तख़ब अहादीस सफा 513)

ये भी पढ़ें…
हज़रत हानी रज़ि० से रिवायत है कि जब वह रसूलुल्लाह सल्लल्लाहु अलैहि वसल्ल्म की खिदमत में हाज़िर हुए, तो अर्ज़ किया: या रसूलुल्लाह! कौन–सा अमल जन्नत को वाजिब करने वाला है?

रसूलुल्लाह सल्लल्लाहु अलैहि वसल्ल्म ने इर्शाद फ़रमाया: तुम अच्छी तरह बात करने और खाना खिलाने को लाज़िम पकड़ो. (मुसतदरक हाकिम) (मुन्तख़ब अहादीस सफा 557)

हमारा फेसबुक पेज लाइक करने के लिए यहाँ क्लिक करें

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here