Home इतिहास टीपू सुल्तान की ज़िन्दगी का वो सच जो शायद ही आप को...

टीपू सुल्तान की ज़िन्दगी का वो सच जो शायद ही आप को मालूम हो, पढ़कर शेयर करें

462
0
SHARE

सोशल मीडिया पर इन दिनों एक वीडियो टीपू सुल्तान की ज़िंदगी और किरदार से संबंधित शेयर किया जा रहा है. जिसे सैंकड़ों लोगों ने देखा है. इस वीडियो में टीपू सुल्तान के बारे में बताया गया है कि वह एक पंचगाना नमाज़ी थे. उनकी नमाज़ कभी कज़ा नहीं होती थी,एक बार की बात हा जब टीपू सुल्तान ने मस्जिदे आला की निर्माण करवाई.

तो उनके उस्ताद ने एक शर्त रखी कि इस मस्जिद में पहली बार इमामत वही करेगा जिसने अपनी पूरी जिंदगी में एक भी तहज्जुद (रात के आखिरी पहर की नमाज़) नमाज़ भी क़ज़ा न की हो।लेकिन कोई भी इमामत के लिए आगे नहीं आया

तब टीपू सुल्तान आगे आये और उन्होंने नमाज़ पढ़ाई। और उन्होंने अपने उस्तादे मोहतरम से कहा कि आपने मेरी राज़ खोल दी। यह बात अलग है की देश में लगातार टीपू सुलतान के खिलाफ ज़हर उगला गया,

मगर जिसका असर विपरीत हुआ, देश के लोगों के अंदर टीपू सुल्तान से जुड़े इतिहास को जानने की ललक पैदा हुई जिसके चलते जो कोई टीपू सुल्तान के वारे में कुछ नहीं जनता वह टीपू सुल्तान को करीब से जाना गया,

टीपू सुल्तान देश के एक मात्र ऐसे शासक है जिन्होंने अंग्रेजों से लड़ते हुए अपनी जान गवाई, और देश की आज़ादी में सबसे अहम् योगदान दिया, आज इतिहास इस बात का गवाह है की अंग्रेजों के खिलाफ सबसे पहले जंग का ऐलान टीपू सुलतान द्वारा किया गया था.

हमारा फेसबुक पेज लाइक करने के लिए यहाँ क्लिक करें

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here