Home अपराध आखिरकार पकड़ा गया आईटी सेल का इंजीनियर और EVM हैकर, किये बड़े...

आखिरकार पकड़ा गया आईटी सेल का इंजीनियर और EVM हैकर, किये बड़े खुलासे…..

1047
0
SHARE

कर्नाटक चुनाव का परिणाम आ चूका हैं जिसके साथ ही एक बार फिर पूरे देश में EVM हैकिंग को लेकर चर्चाएँ तेज हो गई है. जैसे बीते दिनों EVM घोटाले सामने आ रहे हैं जिसमें ये साबित हो गया हैं कि बीजेपी ने EVM में गड़बड़ी कर ऐसा कर दिया हैं कि किसी को भी वोट देने पर वोट भाजपा को जा रहा था,

ऐसे में ये सब देखते हुए भी चुनाव आयोग इस ओर ध्यान देने को राजी नहीं है. कर्नाटक चुनाव से पहले से ही VVPAT मशीन की वीडियो और हैक होने की वीडियो सोशल मीडिया पर खूब वायरल हो रही थी.

पकड में आ गया EVM हैक करने वाला…
अभी तक केवल वीडियो ही वायरल हो रही थीं लेकिन अब इस EVM की हैकिंग की सत्यता को लेकर एक नया मामला सामने आ गया है. दरअसल, हाल ही में शिमला पुलिस ने सचिन राठौर नाम के एक आदमी को गिरफ्तार किया हैं जिसने EVM घोटाले को लेकर बीजेपी को एक बार फिर कटघरे में लाकर खड़ा कर दिया है.

गिरफ़्तार शख्स से जब पुलिस ने पूछताछ की तो यह बात सामने आई और खुद सचिन ने ही कबूल किया है कि भारत के अंदर चुनाव को लेकर प्रयोग होने वाली EVM मशीन को कोई भी चुटकियों में हैक कर सकता है और किसी को भी जिता सकता है.

गिरफ़्तार शख्स बीजेपी आईटी सेल का कार्यकर्ता निकला…
पुलिस के होश उड़ वक्त भी उड़ गये जब उसे यह पता चला कि EVM हैकिंग के मामले में पकड़ा गया शख्स और कोई नहीं बल्कि भाजपा की आईटी सेल में काम कर चुका है.

साथ ही हिमाचल प्रदेश के विधानसभा चुनाव के दौरान सचिन राठौर ने वहां के कई बीजेपी नेताओं से संपर्क करते हुए यह दावा किया था कि वो किसी भी EVM को हैक करके किसी को भी जिता सकता है.

पुलिस जांच में ये भी सामने आया कि सचिन जिस भी राज्य में चुनाव होते हैं उस राज्य के बड़े-बड़े नेताओं से संपर्क करता था और उनसे उन्हें जिताने के एवज में 10-10 लाख रुपयों की मांग भी करता था.

नेताओं से मिली थी इस घोटाले की शिकायत…
जिस वक्त सचिन नाम का ये शख्स नेताओं से पैसों की मांग करते हुए उन्हें जीत दिलाने का दावा कर रहा था उस वक्त कुछ नेताओ ने सचिन का साथ न देते हुए इस मामले की शिकायत चुनाव आयोग से कर दी. इसके बाद कही जाकर पुलिस हरकत में आई और उसने सचिन को गिरफ्तार कर FIR दर्ज की.

पुलिस की माने तो उसने सचिन राठौर को पकड़ने के लिए एक ख़ास टीम का गठन किया और इसी टीम ने सफलतापूर्वक सचिन को महाराष्ट्र के नांदेड जिले के किम्वत से गिरफ्तार कर सलाखों के पीछे पहुचाया.

अब चलेगा देशद्रोह का मुक़दमा…
सचिन को गिरफ्तार कर पुलिस टीम द्वारा उसे नयायाधीश के आवास पर पेश किया गया है. आरोपी के खिलाफ FIR में पुलिस ने इंडियन पीनल कोड की धारा 502 (2) के तहत गलत जानकारी देने और धारा 1442(ए) के तहत देशद्रोह का मामला दर्ज किया है.

हमारा फेसबुक पेज लाइक करने के लिए यहाँ क्लिक करें

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here